इस बार के भौतिकी नोबेल पुरस्‍कार में भारत की भी रही अहम भूमिका

वर्ष 2017 का भौतिकी का नोबेल पुरस्‍कार अल्‍बर्ट आइंस्टाइन द्वारा अपने 'सापेक्षता के सामान्य सिद्धांत' के तहत अनुमान लगाए जाने के 100 साल बाद गुरुत्‍व या गुरुत्‍वाकर्षणीय तरंगों की खोज के लिए लेजर इंटरफियरोमीटर ग्रेविटेशनल-वेब ऑब्जर्वेटरी (लीगो) परियोजना के तहत तीन वैज्ञानिकों रेनर वीस, बैरी सी बैरिश और किप एस थॉर्न को दिया गया है। खास बात यह है कि इस बार के भौतिकी नोबेल पुरस्‍कार में भारत की एक अहम भूमिका रही है।

Subscribe now

Login and subscribe to continue reading this story....

Already a user? Login



loading...